Kufr Ke Liye (कुफ़्र के लिए)
In The Name of Blasphemy (Hindi) (Hindi Edition)
(Kindle Edition)

6 products added to cart in last 30 minutes
MRP: ₹58.00 Checkout @ Amazon Last Updated: 14-Aug-2018 02:46:37 am
✅ Lowest price available on Amazon

Related Categories

भारत की आज़ादी के बाद में दूसरा सबसे बड़ा प्रवास। 2013 के मुज़फ़्फ़रनगर के अमानविये दंगो की कहानी, जिसमें जब सारे लोग शहर को छोड़ने के लिए बेताब हो रहें हैं । एक रेटायअर्ड अध्यापक रुकने का दृढ़ निश्चय कर लेते हैं।

जैसे उम्र के साथ में मास्टर जी अकेले होते जा रहे हैं, बाहर के लोगों से उनकी बातचीत भी काम होती जा रही है, ऐसे समय पर उन्हें देव मिलता है। देव के लिए मास्टर जी एक प्रतिमा से काम नहीं हैं, और मास्टर जी के लिए देव के घर के सदस्य की तरह।

मास्टर जी ने ही देव को बहुत कुछ सिखाया है। उनके पसमे ज़िंदगी से जुड़े हुए हर सवाल के जवाब हुआ करते थे, जिन जवाबों से उन्होंने देव को एक अलग ज़िंदगी दी है। आज दंगो में ज़िंदगी के सावलो से घिरे हुए हैं। मास्टर जी और देव जो की 2013 के मुज़फ़्फ़रनगर के डरावने दंगो को अपनी आँखों से देखतें हैं। जिसमें देव मास्टर जी को, जिन्हें की अपने बचपन से जुड़ी यादों का जुनून सवार है, उसी शहर को छोड़ने की सलाह देता है जहाँ उनका बचपन बीता था।

सीख, ज़िंदगी, दोस्ती, बचपन , दंगे और सियासत की एक दर्दनाक कहानी ।

AuthorNeeraj Agnihotri
BindingKindle Edition
FormatKindle eBook
LanguageHindi
Language TypePublished
Number Of Pages134
Product GroupeBooks
Publication Date2017-05-15
Release Date2017-05-15
Sales Rank8308

Bestsellers in Historical Fiction

Trending Products at this Moment

General information about Kufr Ke Liye (कुफ़्र के लिए): In The Name of Blasphemy (Hindi) (Hindi Edition)