Sikandar Mahan
(Hardcover)

6 products added to cart in last 30 minutes
MRP: ₹250.00 | Saved: ₹25 (10%) ₹225.00 @ Amazon Last Updated: 12-Sep-2018 01:57:50 am
✅ Lowest price available on Amazon
✅ Usually dispatched within 24 hours
✅ Total 9 new items found
✅ Eligible for Prime
✅ Eligible for Super Saver Shipping

Related Categories

अलेक्जेंडर थर्ड ऑफ मकदूनिया को अलेक्जेंडर द ग्रेट या सिकंदर महान् के नाम से जाना जाता है। उसने दस साल के अंदर दुनिया का नक्शा बदलकर रख दिया और यूनान से एशिया तक के एक बडे़ भू-भाग का राजा बन गया। जुलाई 356 ईसा पूर्व में जनमे सिकंदर के पिता फिलिप द्वितीय मकदूनिया के राजा थे। 336 ईसा पूर्व में फिलिप की हत्या के बाद 20 साल के सिकंदर को एक अशांत राज्य वसीयत में मिला। उसने जल्दी ही अपने सभी दुश्मनों को ठिकाने लगा दिया और ग्रीस में अपना एक प्रभुतासंपन्न राज्य स्थापित किया। इसके बाद उसकी राज्य-विस्तार की भूख बढ़ गई। अगले आठ सालों में सिकंदर ने 11,000 मील आगे तक अपनी सेना का नेतृत्व किया और 70 बडे़ शहरों और तीन महाद्वीपों को पार करते हुए उत्तर भारत में पंजाब तक आ पहुँचा। अरस्तू का यह महान् शिष्य तूफान की तरह बड़ी-से-बड़ी बाधा को पार करता रहा, लेकिन मामूली से बुखार से पार नहीं पा सका और इसने बेबीलोन में 323 ईसा पूर्व में उसकी जान ले ली। अपने 33 साल के जीवन में सिकंदर ने कभी आराम नहीं किया। आराम और सुस्ती उसके शब्दकोश में नहीं थे। शूरवीर और नीतिज्ञ सिकंदर महान् का जीवन सदा कर्मकरने की प्रेरणा देता है।

अनुक्रमणिका

दो शब्द -Pgs. 5

1. इतिहास का सबसे कुशल सेनापति -Pgs. 9

2. होनहार वीरवान के होते चिकने पात -Pgs. 13

3. पृष्ठभूमि -Pgs. 18

4. आरंभिक चरण -Pgs. 25

5. सिंहासन पर सिकंदर -Pgs. 33

6. युद्ध-यात्रा -Pgs. 37

7. फारस पर आक्रमण -Pgs. 44

8. डारियस से युद्ध -Pgs. 51

9. महान् विजय -Pgs. 60

10. डारियस का अंत -Pgs. 69

11. भारत में सिकंदर का अभियान -Pgs. 79

12. भारत से सिकंदर की वापसी -Pgs. 105

13. चरित्र का पतन -Pgs. 120

14. अंतिम चरण -Pgs. 130

15. मृत्यु का रहस्य -Pgs. 140

संदर्भ ग्रंथ -Pgs. 144

AuthorRasik Bihari
BindingHardcover
EAN9788192850856
Edition1
ISBN8192850854
LanguageHindi
Language TypePublished
Number Of Pages144
Product GroupBook
Publication Date2016
PublisherPrabhat Prakashan
StudioPrabhat Prakashan
Sales Rank67396

Bestsellers in Biographies & Autobiographies

Trending Products at this Moment

General information about Sikandar Mahan
  • The author associated with Sikandar Mahan is Rasik Bihari.
  • The EAN for Sikandar Mahan is 9788192850856.
  • The edition for Sikandar Mahan is 1.
  • The ISBN for Sikandar Mahan is 8192850854.
  • The language for Sikandar Mahan is Hindi.
  • The binding of Sikandar Mahan is Hardcover.
  • The number of pages for Sikandar Mahan are 144.
  • Sikandar Mahan is grouped in Book group of products.
  • The publication date for Sikandar Mahan is 2016.
  • The publisher for Sikandar Mahan is Prabhat Prakashan.
  • The producer for Sikandar Mahan is Prabhat Prakashan.
  • The sales rank for Sikandar Mahan is 67396.