Vyast Jeevan Mein Ishwar ki Khoj
Sachamuch Ishvar ki Khoj Ke Liye Alag Se Samay Nikalane ki Jururat Nahin. Jeevan ki Tamaam Sakriyataaon Ke Bich Usey ... Wah Ek Chetana Hai, Karyakalaap Nahin Hai.
(Paperback)

6 products added to cart in last 30 minutes
MRP: ₹150.00 | Saved: ₹150 (100%) Checkout @ Amazon Last Updated: 21-Apr-2018 03:59:23 am
✅ Lowest price available on Amazon
✅ Total 6 new items found

Related Categories

सचमुच ईश्वर की खोज के लिए अलग से समय निकालने की ज़रूरत नहीं। जीवन की तमाम सक्रियताओं के बीच उसे पाया जा सकता है, क्योंकि वह एक चेतना है, कार्यकलाप नहीं है। व्यस्त जीवन से परमात्मा की खोज का कोई विरोध नहीं है। असल में, व्यस्त जीवन से अलग परमात्मा के लिए समय खोजने की कोई ज़रूरत नहीं है। तुम्हारे व्यस्त जीवन में ही, तुम्हारे सब कुछ करने में ही - चाहे गिट्टी फोड़ो, चाहे मकान बनाओ, चाहे फ़ैक्टरी में कारख़ाना चलाओ, चाहे घर में रोटी बनाओ, चाहे कपड़े सीओ, चाहे वीणा बजाओ, चाहे चित्र बनाओ, कुछ भी करो - करने से परमात्मा की खोज का कोई विरोध नहीं है, क्योंकि परमात्मा की खोज एक नए प्रकार का करना नहीं है। वह एक नया एक्शन नहीं है। परमात्मा की खोज एक कांशसनेस है, एक चेतना है, एक्ट नहीं, डूइंग नहीं।

AuthorOsho
BindingPaperback
EAN9788121611831
Edition3
ISBN8121611830
Weight93 g
LanguageHindi
Language TypePublished
Number Of Pages192
Product GroupBook
Publication Date2010
PublisherHind Pocket Books
StudioHind Pocket Books
Sales Rank51602

Bestsellers in Religious & Spiritual Fiction

Trending Products at this Moment

General information about Vyast Jeevan Mein Ishwar ki Khoj: Sachamuch Ishvar ki Khoj Ke Liye Alag Se Samay Nikalane ki Jururat Nahin. Jeevan ki Tamaam Sakriyataaon Ke Bich Usey ... Wah Ek Chetana Hai, Karyakalaap Nahin Hai.